LATEST POST  LATEST POST  LATEST POST  LATEST POST 

ऐकलेज़िया कार्डिया क्या है?

ऐकलेज़िया कार्डिया

ऐकलेज़िया कार्डिया क्या है?

ऐकलेज़िया कार्डिया एक ऐसी स्थिति है जिसमें सॉलिड खाना और लिक्विड , भोजन नली से पेट तक निगलने में कठिनाई होती है।
हमारे भोजन नली और पेट के बीच एक वाल्व जिसे लोअर इसोफैजिअल स्फिंक्टर (LES) के रूप में भी जाना जाता है, खाने और एसिड को ऊपर की ओर आने से रोकती है। भोजन या पीने के पानी को निगलने के बाद वाल्व को खुलना चाहिए ताकि खाना और पानी पेट में आसानी से प्रवेश कर सके।

ऐकलेज़िया कार्डिया के रोगियों में, यह वाल्व नही खुल पाता है, जिससे पानी पीने और भोजन निगलने में कठिनाई होती है।
ऐकलेज़िया कार्डिया में खाने की नली की नसें ठीक से काम नहीं करती हैं । धीरे-धीरे, फ़ूड पाइप भोजन को पेट में धकेलने की क्षमता को खो देता है ।

इस कारण , भोजन फ़ूड पाइप में ही इकट्ठा हो जाता है और वहीं सड़ जाता है। ऐकलेज़िया कार्डिया में यही फ़ूड पाइप में इकट्ठा हुआ खाना मुंह में वापस आ जाता है और कभी-कभी यही खाना रात के समय नाक में भी वापस आ जाता है ।
जिन मरीज़ो को ऐकलेज़िया कार्डिया की शिकायत होती है उन्हें लगता है कि भोजन छाती के मध्य भाग में फंस गया है और नीचे नहीं जा रहा है। रोगी को छाती के मध्य भाग में दर्द भी हो सकता है और कम भोजन खाने के कारण तेजी से वजन भी कम हो सकता है।

 

ऐकलेज़िया कार्डिया के क्या लक्षण होते हैं ?

  • बदहजमी-खाना या पानी निगलने में परेशानी होना।
  • ओडिनोफैजीया – ठोस या तरल पदार्थ निगलते समय दर्द।
  • सीने में दर्द- भोजन के बाद छाती के मध्य भाग में दर्द।
  • वजन कम होना-लंबे समय तक चलने वाली बीमारी से वजन घट सकता है और पोषण की कमी भी हो सकती है

 

कलेज़िया कार्डिया का पता कैसे लगाएं ?

लेटेस्ट तकनीकों से ऐकलेज़िया कार्डिया का आसानी से पता लगाया जा सकता है। इन रोगियों में फ़ूड पाइप की बाकी बीमारियां जैसे कैंसर और पेप्टिक स्ट्रिक्चर की संभावना को हठाने के लिए एंडोस्कोपी करना ज़रूरी हो जाता है। ज्यादातर समय इन मरीज़ों में एंडोस्कोपी सामान्य होती है परन्तु इनमें पेट में एंडोस्कोप को पार करने में थोड़ी कठिनाई हो सकती है, इससे हमें ऐकलेज़िया कार्डिया का डाउट हो सकता है।

ऐकलेज़िया कार्डिया का पता हम हाई रेसोलुशन मैनोमेट्री द्वारा लगा सकते है। मैनोमेट्री के दौरान, नाक के माध्यम से फ़ूड पाइप में एक पतले प्रोब या ट्यूब को पार कराया जाता है । प्रोब में कई प्रेशर सेंसर होते हैं, जो एसोफैगस और इसोफैजिअल वाल्व के प्रेशर को मापते हैं। परीक्षण के दौरान, रोगियों को थोड़ी मात्रा में पानी निगलने की सलाह दी जाती है। ऐकलेज़िया कार्डिया के रोगियों में वाल्व का दबाव अधिक होता है।

बेरियम स्वैलो के रूप में जाना जाने वाला एक अन्य परीक्षण भी ऐकलेज़िया कार्डिया का पता लगाने में मदद कर सकता है।

Dr Vikas Singla
Director And Head,
Center For Gastroenterology, Hepatology And Endoscopy
Max Superspeciality Hospital, Saket New Delhi, India

SHARE POST

WhatsApp
Email
Facebook
LinkedIn
Twitter
BOOK  
AN APPOINTMENT
AN APPOINTMENT

Fields with * are required

Reviews